किताब पढ़ने के फायदे |7 दिनों में पढ़ें पूरी किताब

किताब पढ़ने के फायदे: आज भले ही ऑनलाइन रीडिंग का जमाना आ गया हो। लेकिन इसके बावजूद भी किताबों ने अपनी कीमत नहीं खोई है। बल्कि ऑनलाइन रीडिंग के कारण किताबें पढ़ने वालों की संख्या कहीं ज्यादा बढ़ती नजर आ रही है। अब किताबे होती ही इतनी मैजिकल है जो हमारे बचपन से बुढ़ापे तक हमारा साथ देती है।

कमाल की बात तो ये है कि ये हमारी हमेशा मदद करती हैं फिर भी ताना नहीं मारती हैं। और कितना बुरा कर लो कितनी गलतियां कर लो हमेशा सही रास्ता ही दिखाती है। दोस्तों की तरह हमारा साथ निभाती है। जब कभी भी आप अकेले हो बड़े आराम से अपने पसंदीदा किताब के पन्ने पलट सकते हैं और अपने अकेलेपन को भूल सकते है।

बहुत से लोगों को रोजाना बुक के कुछ पन्ने पढ़ने की आदत होती है। जबकि कुछ लोग एक बार में पूरी की पूरी किताब पढ़ पसंद करते हैं और उनको किताब पढने के फायदे भी मिलते हैं।

अगर आपको किताबें पढ़ने का शौक है और आप भी ज्यादा से ज्यादा किताबें पढ़ना चाहते हैं। इसके लिए आपको एक किताब को एक हफ्ते में कंप्लीट करना आना चाहिए ताकि आप आसानी से उस किताब का सार भी समझ सके और नई किताब पढ़ने के लिए तैयार भी हो सके।

आज हम आपको बताने वाले है कि आप किस तरीके से एक ही हफ्ते में किसी भी किताब को पूरा पढ़ सकते हैं और अच्छे से समझ भी सकते है तो चलिए शुरू करते हैं।

उससे पहले बात करते है। अगर आपने सोच लिया है कि आपको 1 सप्ताह में पूरी किताब को खत्म करनी है तो आपको उसके लिए क्या और कैसे करना है।

एक हफ्ते में बुक पढ़ने का अबसे आसन तरीका है कि इसके लिए सबसे पहले अपनी पसंद की सब्जेक्ट की लिस्ट बना लीजिये। अब अगर आपने चैलेंज ले ही लिया है या स्कूल या कॉलेज के असाइनमेंट के चलते आपको एक हफ्ते में एक बुक पूरी करनी है तो सबसे पहले सब्जेक्ट की लिस्ट बनाईये जो आपकी फेवरेट है और जिनके बारे में पढ़ते हुए आपको टाइम का पता ही नहीं चलता और आप पढ़ते ही रहना चाहते हैं।

पहली किताब कैसे चुने (किताब पढ़ने के फायदे)

अगर किताब पढ़ना आपकी आदत नहीं है और ना ही आपका किताब पढने में कोई दिलचस्बी रही है। लेकिन अब आप इसे अपनी एक आदत के रूप में डेवलप करना चाहते हैं तो आपको ऐसी किताब पढनी चाहिए जिसके पन्ने ज्यादा ना हो। जिससे आप आसानी से किताब एक हफ्ते में पूरा कर सके।

ऐसा करने से आपकी रीडिंग हैबिट तो डिवेलप होगी ही, साथ ही साथ आप नई नई और किताबें पढ़ने के लिए मोटिवेट भी होंगे। उसके बाद आप अपने लिए नई नई किताब लाते रहिए और उन्हें भी एक सप्ताह में पूरा करने के चैलेंज को पूरा करते रहिये। जिससे आप नई-नई किताब पड़ने के फायदे भी ले पायेगे।

अगर किताब आपकी पसंद की ना हो तो क्या करें?

किताब आपके पसंद की न हो। ये बात तो टेंशन वाली है। लेकिन इस टेंशन वाली बात का भी समाधान है। अगर किताब आप खुद चुन सकते हैं तो बहुत ही अच्छी बात होगी। लेकिन अगर कोई किताब आपको किसी असाइनमेंट के चलते मिली है तो आपको उसे पढ़ना ही होगा और हो सकता है उस किताब की ब्रीफिंग भी सबमिट करवानी हो। तो ऐसे में भले ही आप उस किताब में इंटरेस्टेड ना हो लेकिन उसे अपना एक इंपॉर्टेंट टास्क समझकर बुक कंप्लीट भी करना होगा ताकि आप उसकी ब्रीफिंग अच्छी तरीके से पेश कर पाए।

किताब पढना कैसे शुरू करें

अब आगे कि बात करतें है तो शायद अब आपके मन में यह सवाल होगा कि किताब को किस तरीके से पढ़ा जाए। जिससे समझना भी आसान हो और सब कुछ पढ़ा हुआ याद भी रहे। इसके लिए आप इन पॉइंट्स पर गौर करें। सबसे पहले लेखक के बारे में पढ़े ताकि आप उससे जुड़ाव महसूस कर सके और उसकी लिखी बातों को खुद से रिलेट कर सके।

Step-1 बुक में दिए गये टाइटल, सब- टाइटल, टेबल आफ कंटेंट्स को पढ़े ताकि आप को उस बुक से जुड़ा काफी कुछ समझ में आ जाये। बुक का इंट्रोडक्शन और कन्क्लूजन जरूर पढ़े ताकि बुक की जर्नी को समझ पाना आसान हो जाए। जरुरी पॉइंट्स को पढ़कर समझकर बाकी पैराग्राफ को आप हाई लाईट भी कर सकते हैं।

Step-2 इसी के साथ आपको पढ़ने के लिए एक टाइम फिक्स करना होगा। ऐसा कहा जाता है कि जब तक आप किसी काम को करने के लिए कोई टाइम फिक्स नही करते है और उसको फ़ॉलो नही करते है। तो किसी भी काम को समय पर पूरा नही किया जा सकता है फिर चाहे आपको किसी असाइनमेंट की बुक को पूरा करना हो या फिर आप इसे अपनी हैबिट बनाना चाहते हो। इसके लिए आप अपनी रूटीन के अकॉर्डिंग टाइम फिक्स कर सकते हैं। रात को सोने से पहले आप किताब के कुछ पन्ने पढ सकते है। एक हफ्ते के बाद आप रीडिंग को इंजॉय करना शुरू भी कर देंगे।

Step-3 आपको किताब के कुल पन्नों के आधार पर हर दिन कितने पन्ने पढने हैं तय कर लीजिए। और कोशिश करिये कि उतने पेजेस तो आप हर हाल में पड़ेंगे ही एक बार रीडिंग करने का आपको आईडिया हो जाएगा उसके बाद आप अंदाजा लगा पायेगे की तेज पढ़ने में आपको कितना टाइम लग रहा है। वही समय आपको अगले 6 दिन भी लगेगा और आप अपना ONE WEEK BOOK READING को मजे मजे में पूरा भी कर लेंगे।

Step-4 साथ ही आप उसकी ऑडियो बुक्स समरी भी सुन सकते है वो भी रूटीन चेंज होने की कंडीशन में। जिससे आपको बुक के बारे में समझना आसान होगा और उस दिन की बुक रीडिंग को समझने में आपको ऑडियो को काफी मदद भी मिल जाएगी और हां आपने जो पढ़ा है। उसके बारे में सोचना भी तो जरूरी है क्योंकि किताब को सिर्फ पढ़ने, इंजॉय करने के अलावा अप्लाई करने के लिए उसके बारे में सोचना जरूरी है।

Note: यहाँ पर आप Real Life Motivational Stories को YouTube पर देख सकते हैं।

Step-5 अगर आप एक अच्छे Book Reader बनना चाहते हैं। उसके लिए आपको बुक की कल्पना(Visualize) भी करना होगा। ऐसा करके आप उस किताब का सार समझ पाएंगे और अगर वह किताब किसी असाइनमेंट से जुड़ी है तो आप जुड़े सवालों के सही जवाब भी दे पाएंगे।

अगर आप इस कमिटमेंट को पूरा कर लेंगे तो आपके लिए हर कमिटमेंट को पूरा करने के लिए नया जोश भर जाएगा। इसीलिए ONE BOOK ONE WEEK चैलेंज को जरूर स्वीकार करें। शुरुआत में थोड़ा मुश्किल होगा लेकिन ना मुमकिन नहीं है। बहुत सारे लोग ऐसा करते हैं लेकिन जब ये आपकी हैबिट बन जाएगी तो किताबें आपकी बेस्ट फ्रेंड होगी जो आपका लाइफ टाइम तक साथ निभाएगी आपको ग्रेट लीडर बनाएगी।

निष्कर्ष

दोस्तों चैलेंज कोई भी हो पहली बार थोड़ा सा डर लगता है लेकिन अगर किसी से आप को लाइफ टाइम अचीवमेंट मिलने वाला हो तो उसे लेनी चाहिए और ऐसा ही चैलेंज किताबें पढ़ना है।

इसीलिए आप भी अपने पसंदीदा विषय पर आसान भाषा वाली किताब से शुरुआत कर दीजिए और कुछ ही वक्त में आप देश-दुनिया की अच्छी-अच्छी किताबे पढ़ पायेगें। किताबें पढने के फायदे देखकर आप खुद ही चौंक जाएंगे इसीलिए इसे ट्राई जरूर करें।

जिंदगी की कोई भी प्रॉब्लम हो तो किताबें हमारा साथ कभी नहीं छोड़ती। इससे बेहतर दोस्त आपको कहीं नहीं मिल सकते। आपको यह लेख कैसा लगा कि किताब पढ़ने के फायदे कमेंट बॉक्स में लिख करके जरूर बतायें।

Sharing Is Caring:

Leave a Comment