IPS Officer कैसे बनें [2022]- सैलरी, योग्यता और चयन प्रक्रिया

IPS Officer Kaise Bane:- अगर आप क्लास 1 पुलिस ऑफिसर बनना चाहते और समाज की सेवा करना चाहते है, तो IPS Officer आपके लिए एक बढ़िया और सम्माननीय कैरियर ऑप्शन हो सकता है। आईपीएस ऑफिसर एक बड़ी अधिकारी रैंक की पोस्ट होती है, जिसका काम देश की सुरक्षा करना होता है।

IPS बनने वाले सभी अभ्यर्थियों को सिविल सर्विस एग्जाम उत्तीर्ण करना होता है। इस पद के लिए प्रत्येक वर्ष आवेदन जारी किये जाते है और प्रत्येक वर्ष UPSC (Union Public Service Commission) इस परीक्षा का आयोजन करती है।

तो ऐसे मे यह प्रश्न उठता है कि IPS Officer कैसे बने?, IPS Officer बनने की तैयारी कैसे करे?, IPS Officer बनने के लिए क्या करे?, तो आज आप इस ब्लॉग में विस्तार से जानेगे कि IPS Officer कैसे बने? IPS Officer की सैलरी कितनी होती है? IPS Officer का sllybous क्या है? IPS Officer बनने की योग्यता (Eligibility) क्या है? IPS Officer की चयन प्रक्रिया क्या है?

IPS की Full Form क्या है?

IPS Officer कैसे बनें? ये जानने की शुरुआत आपको (IPS) का फुल फॉर्म जानने से करनी चाहिए।

IPS Full Form in English: – Indian Police Service

IPS Full Form in Hindi: – भारतीय पुलिस सेवा

IPS का गठन वर्ष 1948 में हुआ था। आईपीएस सर्विस भारत सरकार की तीन अखिल भारतीय सेवाओं IRAS (Indian Railways Service), IAS (Indian Administrative Service) में से एक है। IPS के लिए कैडर कंट्रोलिंग अथॉरिटी गृह मंत्रालय के पास होता है।

IPS Officer का कार्य और जिम्मेदारी

IPS का पद भारत की आंतरिक सुरक्षा व्यवस्था में एक उच्च सम्मानित पद है और यह भारतीय लोकतंत्र का सबसे बुनियादी आधार है। भारत में एक IPS Officer को कई जिम्मेदारीपूर्ण अधिकार दिए जाते है। जिसमें सबसे महत्वपूर्ण जिम्मेदारी यह है कि उसके अधिकार क्षेत्र के लोग सुरक्षित रहें।

इसके अलावा एक IPS Officer जिले में सभी आधिकारिक कानून और व्यवस्था बनाए रखने के लिए कार्य करता है। एक IPS Officer कई तरह की जिम्मेदारियां भी संभालता है। जैसे- अपराधों को रोकना, दुर्घटनाओं को रोकना, आपदा संचालन, अपराधों की जाँच, सदिग्ध व्यक्तियों पर निगरानी रखना आदि कार्य होते है। जिसका मुख्य उद्देश्य शहर और समाज मे शांति व्यवस्था बनाए रखना होता है।

IPS Officer कैसे बनें?

एक IPS Officer बनना इतना आसान नहीं होता है। IPS Officer बनने के लिए कई परीक्षाएं पास करनी होती हैं, फिजिकल टेस्ट से गुजरना पड़ता है, फिर इसके बाद IPS Officer की ट्रेनिंग होती है, जिसके बाद और कई सारे टेस्ट होते है। इन सभी परीक्षाओं और टेस्ट को पास करने के बाद ही आपकी पोस्टिंग एक IPS Officer के पद पर होती है और आप एक आईपीएस ऑफिसर कहलाते है।

तो ऐसे मे वही लोग इस परीक्षा में सफल हो पते हैं जिन्हे IPS Officer बनने की सारी प्रकियाओ के बारे मे पता होता है। तो चलिये एक IPS Officer बनने के लिए जो भी Requirement होती है उनके बारे में अच्छे से जानते है, और एक IPS Officer बनने के लिए क्या योग्यता होनी चाहिए, इन सभी चीजों के बारे मे जानते है।

IPS Officer बनने के लिए योग्यता

अब जानते हैं कि आईपीएस के लिए क्यया योग्दियता होनी चाहिए। आप IPS Officer की परीक्षा मे बैठना चाहते है तो इसके लिये किसी भी मान्यता प्राप्त विश्वविद्यालय से ग्रेजुएशन होना अनिवार्य है, उसके साथ ही स्नातक में 50 प्रतिशत अंक होना अनिवार्य हैं। यदि आप स्नातक के अंतिम वर्ष के छात्र है, तो भी आप इस परीक्षा में बैठ सकते है।

इसके अलावा IPS Officer बनने के लिए आपके पास भारत की नागरिकता का होना अनिवार्य है अगर आप नेपाली या भूटानी हैं तो भी आप परीक्षा दे सकते हैं।

IPS Officer के लिए आयु सीमा

यदि आप IPS की परीक्षा देना चाहते है, तो इसके लिए आपकी आयु कम-से-कम 21 वर्ष और अधिकतम 35 वर्ष होनी चाहिए। तभी आप इस परीक्षा के लिए आवेदन कर सकते हैं।

IPS की परीक्षा कितनी बार दे सकते हैं?

IPS Officer की परीक्षा मे किस केटेगरी के लोग कितनी बार परीक्षा दे सकते है। इसके No. of Attempts for IPS Exam के बारे में हम आपको विस्तार से बताने वाले है –

  • यदि आप सामान्य वर्ग (General Category) से हैं, तो इसके लिए अधिकतम आयु सीमा 30 वर्ष रखी गई है और प्रयासों की संख्या(Number Of Attempts) 4 है। यानि इस कैटेगरी के लोग 4 बार यह परीक्षा दे सकते हैं।
  • पिछड़े वर्ग के वर्ग (OBC Category) के उम्मीदवारों के लिए अधिकतम आयु सीमा 33 वर्ष रखी गई है और प्रयासों की संख्या (Number Of Attempts) 7 बार है। यानि पिछड़े वर्ग के उम्मीदवार IPS Exam 7 बार दे सकते है।
  • अनुसूचित जाति और जनजाति (SC/ST) वर्ग के उम्मीदवारों के लिए आयु सीमा 35 वर्ष रखी गई है और प्रयासों की संख्या असीमित (Number Of Attempts Unlimited) है। यानि (SC/ST) वर्ग को लोग जितनी बार चाहे उतनी बार IPS Officer की परीक्षा मे बैठ सकते है।

इसे भी देखें:- IAS Officer कैसे बने पूरी जानकारी

IPS Officer बनने के लिए शारीरिक योग्यता

IPS Officer बनने के लिए निम्न शारीरिक योग्यता होनी जरुरी है , जो कुछ इस प्रकार हैं –

कद (Height)

वर्ग (Category) पुरुष (Male) महिला (Female)
सामान्य वर्ग 165cm150cm
पिछड़े वर्ग 165cm150cm
अनुसूचित जाति और जनजाति 160cm145cm
IPS Officer बनने के लिए शारीरिक योग्यता

छाती (Chest) –

आईपीएस ऑफिसर के लिए पुरुष उम्मीदवारों की छाती कम-से-कम 84 सेमी होनी चाहिए और महिला उम्मीदवार के लिए छाती 79 सेमी होनी चाहिए।

नेत्र दृष्टि (Eye Sight) –

आईपीएस ऑफिसर के लिए स्वस्थ आंखों का दृष्टि 6/6 या 6/9 होना चाहिए और कमजोर आंखों का दृष्टि 6/12 या 6/9 होना चाहिए। द्विनेत्री दृष्टि आवश्यक हैं। आँखो पर दूर के नंबर – 4.00D से ज़्यादा नहीं होने चाहिए और नज़दीक के नंबर +4.00D से ज़्यादा नहीं होने चाहिए।

तो ऐसे मे यदि आप इन सभी योग्यताओ को पूरा करते है, तो आईपीएस ऑफिसर के लिए लिए अप्लाई कर सकते है, और यदि आप स्नातक 50% से अधिक अंको के साथ पास कर चुके है, तो ही आप इस आईपीएस परीक्षा में बैठ सकते है, और आईपीएस की परीक्षा देते हुए एक आईपीएस ऑफिसर बन सकते है।

आईपीएस के लिए आवेदन कैसे करें?

आईपीएस की परीक्षा एक सिविल सेवा की परीक्षा होती है, जिसके लिए आवेदन फॉर्म युनियन पब्लिक सर्विस कमीशन (UPSC) द्वारा हर साल निकाले जाते हैं जो कि दिसम्बर या जनवरी मे निकलती है, ये सभी परीक्षा UPSC द्वारा CSE (All India Civil Service Exam ) परीक्षा लेती है।

UPSC द्वारा निकाले गए पदो की भर्ती जैसे ‌IAS, IFS, IPS, IRS IPS IDS तथा अन्‍य प्रशासनिक पदों की नियुक्ति की जाती है। ये सभी अधिकारी पोस्ट होती हैं। जिन सभी पदों के लिए UPSC के आधिकारिक वेबसाइट के जरिये ऑनलाइन आवेदन कर सकते है।

आईपीएस ऑफिसर बनने की चयन प्रक्रिया

आईपीएस ऑफिसर के चयन के लिए तीन परीक्षाओं से होकर गुजरना होता है, जो कि इस प्रकार है –

  1. प्रारम्भिक परीक्षा (Preliminary Exam)
  2. मुख्य परीक्षा (Main Exam)
  3. साक्षात्कार (Interview)

प्रारम्भिक परीक्षा (Preliminary Exam)

आईपीएस ऑफिसर के चयन के लिए प्रारंभिक परीक्षा में बहुविकल्पीय प्रकार के प्रश्न पूछे जाते हैं। इस प्रारम्भिक परीक्षा में 2 पेपर होते है और दोनों ही पेपर 200-200 अंकों के होते है। प्रारम्भिक परीक्षा को पास करने के बाद आप मुख्य परीक्षा (Main Exam) में बैठ सकते है। प्रश्न पत्र हिंदी और अंग्रेजी दोनों में सेट किए जाते है हालांकि अंग्रेजी भाषा की Comprehension Skills से सम्बन्धित प्रश्न केवल अंग्रेजी भाषा में ही प्रदान किये जायेंगें। प्रत्येक पेपर के लिए नेत्रहीन (Blind) उम्मीदवारों को 20 मिनट का अतिरिक्त समय दिया जाता है।

आईपीएस ऑफिसर बनने के लिए यह पहला चरण होता है। इसकी प्रारम्भिक परीक्षा की सूचना आपको अप्रैल या मई के महीने में मिल जाती है। लेकिन प्रारम्भिक परीक्षा अगस्त के महीने में होती है और जिसका परिणाम अक्टूबर के महीने में आ जाता है।

प्रारम्भिक परीक्षा का पेपर I

प्रारम्भिक परीक्षा के पहला पेपर 200 अंकों का होता है, जिस पेपर में राष्‍ट्रीय और अंतरराष्‍ट्रीय करंट अफेयर्स, भारतीय इतिहास और भारतीय राष्‍ट्रीय आंदोलन, भारतीय राजतंत्र और गवर्नेंस (संविधान, पॉलिटिकल सिस्‍टम, पंचायती राज, पब्लिक पॉलिसी), भारत और विश्‍व का भूगोल, आर्थिक और सामाजिक विकास (सस्‍टेनेबल डेवलपमेंट, गरीबी, जनसंख्‍या), इनवायरमेंटल इकोलॉजी, बायो-डायवर्सिटी, क्‍लाइमेट चेंज और जनरल साइंस जैसे विषयों से ऑब्‍जेक्टिव सवाल पूछे जाते हैं. इस पेपर को हल करने लिए समय सीमा 2 घंटे की होता है.

प्रारम्भिक परीक्षा के पेपर II –

प्रारम्भिक परीक्षा के के दूसरे भाग के इस पेपर मे 200 अंक के इस पेपर में कॉम्प्रिहेंशन, इंटरपर्सनल स्किल्‍स, जनरल मेंटल एबिलिटी, लॉजिकल रीजनिंग और एनालिटिकल एबिलिटी, डिसिजन मेकिंग और प्रॉब्‍लम सॉल्विंग, बेसिक न्‍यूमरेसी और डेटा इंटरप्रिटेशन (चार्ट, ग्राफ, टेबल) से संबंधित सवाल पूछे जाते हैं. इस पेपर को हल करने के लिए समय सीमा 2 घंटे की होती है.

मुख्य परीक्षा (Main Exam)

आईपीएस ऑफिसर के चयन के लिए मुख्य परीक्षा प्रारंभिक परीक्षा की तुलना मे उससे भी कठिन होती है इसमें लिखित परीक्षा के साथ ही साक्षात्कार (Interview) भी लिया जाता है। मुख्य परीक्षा में कुल 9 पेपर होते है। जिन्हें दो भागों में विभाजित किया गया है, क्वालीफाइंग पेपर और मेरिट पेपर के रूप में

क्वालीफाइंग पेपर –

यह पेपर 2 भाग मे होते है (1st And 2nd Paper) दोनों पेपर 300-300 अंकों के होते है, इसके अंक चयन के समय नहीं जोड़े जाते है।

साक्षात्कार (Interview)

प्रारंभिक परीक्षा और मुख्य परीक्षा को पास करने के बाद आपके प्राप्त अंको के मेरिट के आधार पर आपको इंटरव्यू के के लिए बुलाया जाता है, जो की यह इंटरव्यू एक पेनल के द्वारा लिया जाता है जिसकी अवधि तक़रीबन 40 से 45 मिनट की होती है। इंटरव्यू क्वालिफ़ाई करने के बाद ही आपको मेरिट के आधार पर आईपीएस ऑफिसर बनने के लिए IPS की Training पर भेजा जाता है और उम्मीदवार के कुछ वेरिफिकेशन करने के बाद उसे पद पर नियुक्ति कर दिया जाता है।

मेरिट पेपर –

मेरिट पेपर मे कुल 7 पेपर होते है, जिन सभी पेपर का अंक 250-250 होते है, यानी सभी पेपर कुल 1750 अंकों के होते है।

आईपीएस आफिसर की सैलरी (IPS Officer Salary)

जब इतने मेहनत और सफलता प्राप्त करने के बाद आपकी आईपीएस ऑफिसर के पद पर नियुक्ति होती है, तो ऐसे मे अब आपके मन मे यह सवाल जरूर आएगा की आईपीएस ऑफिसर का वेतन (IPS Salary) कितना होता है, तो ऐसे मे यह जान लेना चाहिए की आईपीएस की सैलरी पद के हिसाब से अलग-अलग होती है जो इस प्रकार से है-

पदवेतन/Grade
पुलिस उपाधीक्षक -Deputy Superintendent Of Police 15,600-39,100 Grade Pay Of 5,400
अपर पुलिस अधीक्षक – Additional Superintendent Of Police 15,600-39,000 Grade Pay 6,600
पुलिस उपमहानिरीक्षक – Deputy Inspector General Of Police 37,400-67,0000 Grade Pay 8,900
पुलिस महानिरीक्षक/संयुक्त पुलिस आयुक्त – Inspector General Of Police/Joint Commissioner Of Police 37,400-67,000 Grade Pay 10,000
पुलिस अधीक्षक – Superintendent Of Police 15,600-39,000 Grade Pay 7,600
वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक – Senior Superintendent of Police 15,600-39,000 Grade Pay 8,700)
अतिरिक्त पुलिस महानिदेशक – Additional Director General Of Police 37,400-67,000 GradePay 12,000
पुलिस महानिदेशक – Director General Of Police 80,000 No Grade Payment

दोस्तों हमें उम्मीद है कि IPS Officer Kaise Bane से सम्बंधित सभी सवालों के जवाब आपको ऊपर मिल गये होंगे जिससे अब आपको IPS Officer बनने के लिए इन सभी को अच्छे से समझना है। और जोरदार तैयारी करके IPS Officer Kaise Bane अपने इस सपने को पूरा करना है अगर आपके मन में कोई भी सवाल है तो आप हमें Comment कर के उसका उत्तर प्राप्त कर सकते हैं।

धन्यावाद …………….

आईपीएस की तैयारी कैसे करें?

आईपीएस की तैयारी आप घर से भी कर सकते हैं लेकिन इसके आप केवल चुनिन्दा Study Material पर भरोसा करें। जैस NCERT, स्टेंडर्ड पुस्तकें और टॉपर्स के द्वारा बताई गयीं टेस्ट सीरीज़। रिवीजन इस परीक्षा का सबसे महत्वपूर्ण हिस्सा है। और इस प्रक्रिया में विश्वास।

आईपीएस बनने के लिए क्या करना पड़ता है?

IPS अधिकारी बनने के लिए आपको UPSC CSE परीक्षा के लिए आवेदन करना होगा और ट्रेनिंग के लिए चयनित होने के लिए प्रारंभिक, मुख्य और साक्षात्कार को क्रैक करना होगा।

आईपीएस का फुल फॉर्म और सैलरी

आईपीएस का फुल फॉर्म “Indian Police Service” होता है जिसे हिंदी में “भारतीय पुलिस सेवा” कहते हैं। एक आईपीएस अफसर को 7वें वेतन आयोग के अनुसार 56100 रुपये मिलते है। साथ ही आईपीएस अधिकारियों को महंगाई भत्ता समेत कई अन्य तरह के भत्ते भी मिलते हैं।

Sharing Is Caring:

1 thought on “IPS Officer कैसे बनें [2022]- सैलरी, योग्यता और चयन प्रक्रिया”

Leave a Comment